Main Article Content

Abstract

हरित क्रान्ति से अभिप्राय नई तकनीकए मशीनीकरण रासायनिक खादए उन्नत बीज कीटनाशक दवाईयों सहकारी बैकों की सहायता से फसलों का ज्यादा से ज्यादा उत्पादन लेना है। शोध क्षेत्र सिरसा जिले ;हरियाणाद्ध में भी कृषि विकास एवंम हरित क्रान्ति से फसलों में आशांतीत वृद्धि हुई है। हरित क्रान्ति शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग संयुक्त राज अमेरिका के डॉण् विलियम ने किया। भारत में हरित क्रान्ति के बाद ही कृषि में विकास दिखाई देने लगा। यह दोनो घटनाएं भारतीय कृषि में एक साथ घटित हुई थी। जब 1965.66 के वर्ष में कृषि फसलों खासकर खाद्यान्न उत्पादन में ना केवल भारत अपितु शोध क्षेत्र सिरसा जिला ;हरियाणाद्ध में भी इनका प्रभाव स्पष्ट दिखाई दिया जिले में चावलए गेहूं का उत्पादन गुणोतर वृद्धि से बढे़ और साथ ही खपत बढी कीटनाशकोंए उर्वरकों व भारतीय कृषि में जहरीले विषाकत पदार्थो की जिसका स्पष्ट प्रभाव पर्यावरण की गुणवता पर पड़ा है। प्रस्तुत शोध में सिरसा जिले में हरित क्रान्ति का आगमन व पर्यावरणीय परस्थितियों पर प्रतिकूल प्रभाव को रेखांकित किया गया है। शोध के निष्कर्षए आंकडे़ व तथ्य मूलत द्वितीयक और कुछ प्रथम समकों के आधार पर प्रस्तुत किये गए है।

Article Details