Main Article Content

Abstract

आध्यात्मिक पर्यटन एक ऐसा ही क्षेत्र है जिसमें कुछ अनुसंधानकत्र्ता ने क्रमबद्ध रूप से कार्य करना आरंभ किया है। इसने पर्यटन उद्योग के लिए नया आयाम जोड़ा है। जिसे आध्यात्मिक पर्यटन कहा जाता है। फलस्वरूप आध्यात्मिक पर्यटन के क्षेत्र में जागरूकता और अनुसंधान की रूचि बढ़ गई है। यह देखा गया है कि हाल ही में सामाजिक तथा व्यापारिक क्षेत्रों में अनुसंधान का एक महत्वपूर्ण विषय बन गया है। इससे पर्यटन उद्योग को एक नया आयाम मिल रहा है जिसे आध्यात्मिक पर्यटन कहा जाता है। प्रस्तुत शोध पत्र में मुख्य रूप से भारत में आध्यात्मिक पर्यटन की प्रवृत्तियों और अवसरों का पता लगाना, पर्यटन उद्योग के विकास में आध्यात्मिक पर्यटन की भूमिका के बारे में चर्चा करना तथा भारत में आध्यात्मिक पर्यटन की संभावनाओं एवं रणनीतियों जैसे महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा किया गया है।

Article Details