Main Article Content

Abstract

ग्रामीण विकास के अन्तर्गत कृषिए आर्थिक तथा सामाजिक उन्नति की ओर ध्यान देते हुए भूमिहीन श्रमिकों के लिए उचित मजदूरीए जन स्वास्थ्यए शिक्षाए ग्राम नियोजनए आवास योजना तथा संचार आदि कई क्षेत्रों में भी उचित प्रयास करने होंगे । विश्व बैंक के अनुसार.ग्रामीण विकास एक ऐसी राजनीति है जो विशेष समुह के लोगोंए निर्धन ग्रामीणोंए लघु एवं सीमान्त कृषकोंए काश्तकारों तथा भूमिहीनों के सामाजिक.आर्थिक जीवन में सुधार करती है। महात्मा गांधी के अनुसार.ग्रामीण विकास से तात्पर्य ग्रामीण क्षेत्रों में निर्धन एवं असहाय लोगों को आर्थिक सामाजिक एवं शैक्षिक स्तर से उपर उठाकर ग्राम को एक स्वावलम्बी गणतंत्र बनाना है।

Article Details