Main Article Content

Abstract

लोकतंत्र चुनाव त्योहार की भांति है! भारत जैसे विशाल जनसंख्या, भू-भाग, के साथ-साथ विविधताओं में चुनाव की रणनीतियाँ और भी मायने रखने लगती है। भारत की अगर बात करें यहाँ पिछले एक दशक से लगातार चुनाव, चुनाव प्रचार और ‘परम्परागत चुनावी रणनीतियों का स्थान आज की आधुनिक तकनीक से लैस विभिन्न सोशल साईड्स ने ले ली है।

Article Details