दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग में साफ्टा की भुमिका

  • राजेन्द्र कुमार गुर्जर

Abstract

विश्व के विभिन्न क्षेत्रों में आर्थिक सहयोग को बढ़ावा देकर साझा विकास एवं समृद्धि को बढ़ावा देने के लिए क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण एवं क्षेत्रीय मुक्त व्यापार क्षेत्रों का निर्माण विश्व राजनीति का नवीन प्रवृति है। आसियान एवं यूरोपीय संघ जैसे क्षेत्रीय आर्थिक समझौतो की सफलता से प्रेरित होकर दक्षिण एशिया क्षेत्र में थी मुक्त व्यापार को बढ़ावा देने के लिए 2004 में इस्लामाबाद में आयोजित 12वें सार्क सम्मेलन में दक्षिण एशिया मुक्त व्यापार क्षेत्र (संक्षेप में साफ्टा) की स्थापना करने का निर्णय सार्क देषों द्वारा लिया गया। साफ्टा की व्यवस्था को लगभग 15 साल गुजर चुके है, इस मुक्त व्यापार क्षेत्र व्यवस्था का कार्यान्वयन एवं प्रर्दषन कमजोर जरूर रहा है, परन्तु यह भी सच है कि साफ्टा की व्यवस्था संपूर्ण दक्षिण एशिया क्षेत्र का रूपान्तरण कर सभी सार्क देशों में साझा विकास एवं समृद्धि को बढ़ावा दे सकती है। प्रस्तुत शोध पत्र दक्षिण एशियाई मुक्त व्यापार क्षेत्र व्यवस्था की ऐसी भूमिका का आंकलन एवं मूल्यांकन करेगा तथा व्यापक संभावना-युक्त साफ्टा की विभिन्न संभावनाओं एवं चुनौतियों का भी अवलोकन करेगा।

Published
2020-02-09